-->

क्या आप बालों की समस्या से जूझ रहे हैं? आपने हर संभव कोशिश की है - सही पोषक तत्व खाने से लेकर बालों की देखभाल करने वाले बेहतरीन उत्पादों का उपयोग करने तक। लेकिन भी कोई समाधान नहीं मिला है?

योग आपके स्वस्थ, मजबूत बालों को वापस पाने में आपकी मदद कर सकता है। प्रतिदिन योग करने से आपके बालों का विकास बेहतर होगा और संपूर्ण स्वास्थ्य भी नियंत्रण में रहेगा।

योग प्राचीन फिटनेस फॉर्म है साथ ही साथ जीवन जीने का एक तरीका भी है। इसे न केवल आंतरिक और मानसिक स्वास्थ्य को तंदुस्र्स्त की जाया सकता है बल्कि त्वचा और बालों को भी ठीक किया जा सकता है।

यदि आप ऐसे व्यक्ति हैं जिनके बाल झड़ते है तो ऐसे कई योग आसन हैं जिन्हे करके नये बालों का विकास किया जा सकता हैं। बालों के विकास और स्वास्थ्य के लिए योग को दुनिया भर में कुछ लोकप्रियता मिल रही है क्योंकि यह आश्चर्यजनक परिणाम प्रदान करता है। योग करने से सिर में रक्त परिसंचरण में मदद मिलती है और कोशिकाओं की मरम्मत होती है। अधोमुखश्वानासन जैसे योग आसान बालों के स्वास्थ्य के लिए सबसे प्रभावी साबित हुए हैं। पतला शरीर, शांत दिमाग और साफ त्वचा देने के अलावा, यह आपको शानदार बाल भी दे सकता है। आइए बालों को फिर से उगाने के लिए योग का अभ्यास करते है। 

यह जानने के लिए पढ़ते रहें कि योग आपके बालों को कैसे लाभ पहुंचा सकता है और कौन से आसन आपके बालों के लिए सबसे अधिक लाभ प्रदान कर सकते हैं।

बाल उगाने के योग - Baal ugane ke liye yoga


कपालभाति | Kapalabhati

कपालभाति दो संस्कृत शब्दों से मिल कर बना है: कपाल, जिसका अर्थ है "खोपड़ी," और भाटी, जिसका अर्थ है "प्रकाश"। यह साँस लेने का व्यायाम कपाल से विषाक्त पदार्थों को साफ करने में मदद करता है, जिसमे पूरे सिर या चेहरे का क्षेत्र शामिल है, इस में बेहतर ऑक्सीजन की आपूर्ति को बढ़ावा देना और मुक्त कणों को कम करना, बालों का विकास करना शामिल है। इसके अलावा, यह तनाव और चिंता को कम करने में मदद करता है, जो बालों के झड़ने में भी मदद करता है।

कपालभाति कैसे करनी चाहिए? | How to do kapalbhati in hindi

अपनी पीठ, गर्दन और सिर को सीधा रखते हुए एक क्रॉस लेग पोजीशन में बैठ जाएं। अपने हाथों को अपने घुटनों पर रखें, अपनी हथेलियों को ऊपर की ओर रखते हुए और अपनी सभी मांसपेशियों को आराम दें। एक गहरी सांस लें और फिर पेट की मांसपेशियों को सिकोड़ते हुए सभी हवा को बाहर निकालें। ऐसा एक दो मिनट तक करें। कपालभाति का अभ्यास सुबह-सुबह खाली पेट करने की सलाह दी जाती है।

अधोमुखश्वानासन | Downward Dog Pose

अधोमुखश्वानासन, जिसे डाउन वार्ड डॉग पोज़ के रूप में जाना जाता है, सूर्य नमस्कार के दौरान अभ्यास किए जाने वाले 12 आसनों में से एक है। यह एक संक्रमणकालीन विश्राम मुद्रा है, जो रक्त प्रवाह को बढ़ाती है। इससे स्कैल्प तक ऑक्सीजन पहुंचती है और बालों के विकास को बढ़ावा मिलता है। इस आसन के कई अन्य शारीरिक लाभ भी हैं। उदाहरण के लिए, यह मन को शांत करने, शरीर को फिर से जीवंत करने और सक्रिय करने में मदद करता है।

अधोमुखश्वानासन कैसे करें | Downward Dog Pose in Hindi

योग मैट पर अपने घुटनों और हथेलियों के बल पर खड़े हो जाएं।  शरीर को उल्टे वी आकार में बनाने की प्रयास करे। अपने घुटनों और बाहों को सीधा रखें और पेट अंदर की ओर धकले। अपना सिर नीचे और अपनी आँखें अपनी नाभि पर रखें। सांस अंदर-बाहर करें और 5 लंबी सांसों तक इसी स्थिति में रहें।

बालासन | Balasana

बालासन का शाब्दिक अर्थ है बच्चा (बालक) आसान से है इसका बालों से कोई संदर्भित नहीं है। हालांकि, यह बालों के झड़ने का कारण बनने वाले दो सबसे बड़े कारकों का खत्म करता है: तनाव और पाचन संबंधी समस्याएं। आमतौर पर पेट से संबंधित किसी भी समस्या से राहत देने के लिए बालासन की सलाह दी जाती है।  इस मुद्रा के दैनिक अभ्यास से आपके पाचन और मानसिक स्वास्थ्य दोनों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ है, जिससे बालों के झड़ने का खतरा काफी कम हो जाता है।

बालासन कैसे करें | How to do balasana in hindi

घुटनों को मोड़कर औरअपने पैरों पर अपने कूल्हों पर बैठें। श्वास लें, अपने हाथों को ऊपर की ओर फैलाएं और फिर साँस छोड़ें, और अपने कोर के साथ नीचे झुकें, जब तक कि आपका माथा और हथेलियाँ जमीन को न छू लें। अपनी श्वास पर ध्यान केंद्रित करें और 30 सेकंड से एक मिनट तक इस मुद्रा में रहें।

शीर्षासन | Sirsasana

शीर्षासन खोपड़ी में रक्त परिसंचरण में सुधार करता है जो बालों के झड़ने, बालों के पतले होने और गंजापन को कम करने में मदद करता है। यह आसन नए बालों के विकास में मदद करता है और बालों को सफेद होने से रोकता है।

शीर्षासन योग कैसे करें | How to do sirsasana step by step in hindi

घुटने टेकें, अपनी उंगलियों को आपस में बांधें और उन्हें अपने सिर के पीछे रखें। अब नीचे झुकें और अपने माथे को जमीन से छुएं। अपने सिर के मुकुट को जुड़े हाथों से सहारा देते हुए, अपने पैरों को धीरे-धीरे ऊपर उठाएं ताकि फर्श पर सीधा खड़ा हो सके। अपने पैरों को पास रखें और हाथ सीधे रखें। एक बार जब आपका शरीर इस मुद्रा में स्थिर हो जाए, तो कोशिश करें और कुछ सेकंड के लिए संतुलन बनाए रखें।

इस पोज़ को परफेक्ट करने के लिए बहुत सारे अभ्यास की आवश्यकता होती है। कोशिश करें और किसी अन्य व्यक्ति की मदद लें या दीवार का सहारा ले।

बालायाम योग | Balayam Yoga

जब आप अपने नाखूनों को जोर से रगड़ते हैं, तो इससे स्कैल्प में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, बालों की जड़ मजबूत होते हैं और बालों का विकास होता है। बालयम योग को बालों को समय से पहले सफेद होने से रोकने के लिए भी की जाता है, इसलिए हर दिन इस मुद्रा का अभ्यास करें।

बालायाम योग कैसे करे | How to do balayam yoga in hindi

बालों के विकास के लिए सबसे सरल व्यायामों में से एक, यह कहीं भी बैठकर किया जा सकता है। इसे करने के लिए अपने दोनों हाथों की अंगुलियों को एक-दूसरे की ओर मोड़ें और अपने नाखूनों को जोर-जोर से आपस में रगड़ना शुरू करें। इस योगासन को रोजाना 10-15 मिनट तक करें।