डिप्रेशन क्या होता है - Depression Kya Hota Hai

हम में से ज्यादातर लोग कभी-कभी अकेलापन या उदासी महसूस करते हैं। यह किसी के नुकसान, जीवन के संघर्ष या घायल आत्मसम्मान की कारण हो सकता है । लेकिन जब ये भावनाएं भारी हो जाती हैं, तो शारीरिक बुरे लक्षण पैदा करते हैं जो आपको एक सामान्य, सक्रिय जीवन जीने से रोकते हैं।

डिप्रेशन के लक्षण

डिप्रेशन के लक्षण क्या होते हैं - Depression Ke Lakshan Kya Hote Hai

डिप्रेशन मानसिक विकार है जो लगातार उदास मनोदशा या गतिविधियों में रुचि की कमी के कारण होता है इस लिए डिप्रेशन के लक्षणों को पहचानना महत्वपूर्ण है। दुर्भाग्य से, लगभग आधे लोग जिन्हें डिप्रेशन होता है, वे कभी भी इसके लक्षण को समझ नहीं पते है, इसे कारण वहे इलाज नहीं करवाते हैं। डिप्रेशन में ये लक्षण शामिल हो सकते हैं ।
  • ध्यान केंद्रित करने, विवरण याद रखने और निर्णय लेने में परेशानी।
  • शरीर मे थकान महसूस होना ।
  • अपराधबोध , निराशा और बेबसी की भावनाएँ ।
  • अनिद्रा, सुबह जल्दी उठना, या बहुत अधिक देर तक सोना ।
  • चिड़चिड़ापन ।
  • बेचैनी ।
  • अधिक खाने या भूख कम लगना ।
  • लगातार उदास, चिंतित रहना ।
  • आत्मघाती विचार ।

डिप्रेशन के कारण - Depression Ke Karan

  • न्यूरोट्रांसमीटर स्वाभाविक रूप से मस्तिष्क मे रसायन होते हैं जो डिप्रेशन में मुख भूमिका निभता हैं।
  • शरीर मे हार्मोन के असंतुलन या परिवर्तन, डिप्रेशन के कारण हो सकता है। हॉर्मोन में परिवर्तन गर्भावस्था के दौरान और प्रसव के बाद के हफ्तों या महीनों के दौरान होते  है ।
  • जिन लोगों के रक्त संबंधियों में यह डिप्रेशन की बीमारी होती है उनमें डिप्रेशन अधिक पाया जाता है। शोधकर्ता उन जीनों को खोजने की कोशिश कर रहे हैं जो डिप्रेशन पैदा करने में शामिल होते हैं।
  • शारीरिक, यौन या भावनात्मक शोषण डिप्रेशन के कारण बन सकते है। 
  • किसी प्रिय व्यक्ति की मृत्यु से दुःख डिप्रेशन का खतरा बढ़ सकता है।

डिप्रेशन के उपाय - Depression Ke Upay

  • तनाव को नियंत्रित करे और अपने आत्मसम्मान को बढ़ाने के लिए कदम उठाएं।
  • किसी संकट के समय में, परिवार और दोस्तों के पास पहुंचें ।
  • डिप्रेशन के बिगड़ने से बचाने के लिए शुरुआती संकेत पर उपचार करें।
  • जीवन मे दैनिक लक्ष्य निर्धारित करें।
  • नियमित व्यायाम मस्तिष्क को सकारात्मक तरीके से सोचने मे प्रोत्साहित करता है।
  • ध्यान और योग का अभ्यास करे ।
  • पर्याप्त नींद ले ।

0 टिप्पणियाँ