-->
मकरासन आरामदायक योग आसन में से एक है जो की पीठ और कंधे की समस्याओं के लिए लाभदायक है ।यह शवासन के विकल्प के तौर पर भी उपयोग किया जा सकते है, जिसमे पूरा शरीर विश्राम की अवस्था में होता है।  मकरासन का उद्देश्य अन्य योग आसनों का अभ्यास करने से उत्पन्न खिंचाव को कम करना है इसलिए इसे योग सत्र के समाप्त करने के बाद किया जाता है ।

मकरासन का अर्थ |  Makarasana Ka Arth 

मकरासन नाम संस्कृत के शब्दो से मिल कर बना है, "मकर" का अर्थ "मगरमच्छ" और "आसन" का अर्थ है शरीर की मुद्रा है। इसे अंग्रेजी भाषा में क्रोकोडाइल पोज के नाम से भी जाना जाता है । मकरासन को करते समय आप मगरमच्छ जैसा दिखता है, जो की आराम करनी की मुद्रा में होता है, चेहरे और गर्दन को सतह के जल स्तर से ऊपर रखता है।

मकरासन करने का समय | Makarasana Karne Ka Samay

अभ्यास करने के लिए सुबह का समय सबसे उत्तम है यदि आप सुबह इसका अभ्यास नहीं सकते, तो आप इसे अपने भोजन से तीन से चार घंटे के अंतराल के बाद शाम को कर सकते हैं।

मकरासन करने के विधि | Makarasana Karne Ki Vidhi 

मकरासन योग - Makarasana

  • अपने पेट के बल फर्श पर लेट जाएं। पैरो को जोड़ कर सीधा रखे।
  • अपने कंधों और सिर को उठाएं, अपनी गर्दन सीधी रखें और आगे देखें।
  • अब अपने हाथों को मोड़ो और दोनों कोहनी की नोक को जमीन पर लगये।
  • अपने सिर को थोड़ा आगे झुकें और अपनी ठुड्डी को अपनी दोनों हाथो की हथेलियों में रखें।
  • अपने दाहिने पैर को पीछे की ओर मोड़ कर कूल्हों ले जाये और वापिस सीधा करे। यह प्रक्रिया बाएं के साथ भी करे। 
  • सामान्य रूप से और धीरे-धीरे सांस लें और अपनी मांसपेशियों को आराम दें।
  • जब तक आप पूरी तरह से आराम महसूस न करें तब तक कुछ मिनट आसन में रहें।
  • स्थिति से मुक्त होने के लिए, धीरे से अपनी हथेलियों को ठोड़ी से हटाएं, अपने कंधों और सिर को नीचे लाएं।

मकरासन के प्रकार | Makarasana Ke Parkar

ठुड्डी को अपनी दोनों हाथो की हथेलियों में रखने में मुश्किल होने पर मकरासन मे परिवर्तन भी कर सकते है, दोनों हाथो को मोड़कर माथे को कालियो पर रख दे ।

मकरासन चित्र - Makarasana

मकरासन के लाभ | Makarasana Ke Labh

  • मकरासन  आपके कंधों और रीढ़ के तनाव को दूर करता है
  • यह अस्थमा, घुटने के दर्द और फेफड़ों से संबंधित किसी भी समस्या को ठीक करने मदद करता है।
  • आपके शरीर को पूरी तरह से आराम देता है और आपको तरोताजा करता है ।
  • मकरासन उच्च रक्तचाप, हृदय रोगों और मानसिक विकारों को ठीक करने में मदद करता है । 
  • आसन आपके दिमाग को शांत और चिंता को दूर करता है।

सावधानियां | Savdhaniya

यदि आपको पीठ और गर्दन में गंभीर चोट लगी है, तो मकरासन न करे । अपने डॉक्टर से परामर्श करने और योग शिक्षक की देखरेख में ही इसका अभ्यास करें। 

मकरासन वीडियो | Makarasana Video

0 टिप्पणियाँ