योग के लाभ - Yoga Ke Labh

आज दुनिया भर के लोग योग का अभ्यास कर रहे हैं । योग सिर्फ एक प्रवृत्ति नहीं है, यह जीवित रहने का एक  तरीका भी है । 19 मिलियन से अधिक अमेरिका के निवासी योग का अभ्यास करते हैं और दुनिया भर के लाखों लोगों को योग ने लाभान्वित किया है।

योग शब्द का अर्थ है - "आपने आप को वास्तविकता में लाना"। योग शब्द को केवल व्यायाम से ना जोड़े! यह एक सुंदर अभ्यास है जो आपके मानसिक स्वास्थ्य को बनता है, यह शारीरिक स्वास्थ्य को स्थिर और आध्यात्मिक विकास करता है। योग मानवता के लिए एक चमत्कारी वरदान है।

योग के लाभ

योग के फायदे - Yoga Karne Ke Fayde

  • संतुष्टि में वृद्धि होती है । 

योग का अभ्यास करते समय ध्यान, गहरी साँस लेने और अपने साँस को नियंत्रित करना होता है । पतंजलि के योग सूत्र के अनुसार, योग मन के उतार-चढ़ाव को शांत करता है। दूसरे शब्दों में, यह निराशा, खेद, क्रोध, भय को धीमा करता है जो तनाव का कारण बन सकता है। तनाव बहुत सी स्वास्थ्य समस्याओं की जड़ है जिसमे माइग्रेन और अनिद्रा से लेकर उच्च रक्तचाप और दिल के दौरे तक है । अगर आप अपने दिमाग को शांत करना सीख जाते हैं, तो आप लंबे समय तक अरोग रहेंगे।

  • एकाग्रता और ध्यान में सुधार होता है । 

योग का एक महत्वपूर्ण बिंदु वर्तमान पर ध्यान केंद्रित करना होता है। अध्ययन में पाया गया है कि नियमित योग अभ्यास प्रतिक्रिया एकाग्रता, स्मृति और यहां तक कि ज्ञान में सुधार करती है। मेडिटेशन का अभ्यास करने वाले लोग समस्याओं को हल करने और बेहतर तरीके से जानकारी हासिल करने मे तेज़ होते है ।

  • दिमाग और शरीर के संबंध में सुधार होता है । 

आसन और विशेष श्वास तकनीक के उपयोग से दिमाग और शरीर के बीच संबंध में सुधार की जा सकते हैं । आसन और सांस लेने की तकनीकें मस्तिष्क में रक्त प्रवाह को बढ़ती है ।

  • आत्मज्ञान जागरूकता का निर्माण होता है ।

योग और ध्यान आत्मज्ञान जागरूकता का निर्माण करते हैं। आप जितना अधिक जागरूक होंगे, क्रोध जैसी भावनाओं से मुक्त होंगे। योग करुणा भावनाओं को बढ़ा है जो मन को शांत करके क्रोध को कम करता है। नियमित रूप से योग का अभ्यास करने से कृतज्ञता, सहानुभूति, और क्षमा की भावनाओं का उत्पति होती है ।

  • शरीर लचीला और मजबूत बनता है ।

लचीलापन योग के लाभों में से एक है। अपनी पहली बारी के दौरान, आप शायद से अपने पैर की उंगलियों को छूने में सफल नहीं होंगे, लेकिन इसके निमियत अभ्यास करने से अंत में असंभव योग आसान भी बिना किसी मुश्किल के कर सकेंगे । योग मांसपेशियां मे लचीलापन लाने के इलावा मांसपेशियां को मजबूत भी करता है। योग गठिया और पीठ दर्द जैसी बीमारियों से भी बचाता हैं ।

  • मोटापा और वजन कम करने मे सहायता करता है ।

मोटापा एक ऐसी स्थिति है जहां शरीर मे वसा (फैट) जमा होता है जो दिल के दौरे जैसे स्वास्थ्य जोखिमों को बढ़ाने का कारण बन सकता है । तनाव, गलत जीवन शैली और बुरे खाने की आदत से मोटापा होता है । योग का उद्देश्य बेहतर खानपान और शारीरिक गतिविधिओं के माध्यम से अरोग को बढ़ावा देना है। योग का नियमित अभ्यास करने से निश्चित रूप से मोटापा कम किया जा सकता है । विभिन्न योग आसन के माध्यम से वजन कम करने के सहायता मिल सकती है और तनाव पर नियंत्रण पाया जा सकता है ।

  • पीठ दर्द मे राहत मिलती है।

शरीर मे लचीलापन और ताकत पीठ दर्द के कारणों को रोकने में मदद कर सकते है। बहुत से लोग जिन्हें पीठ दर्द होता है, वे कंप्यूटर पर बैठकर या कार चलाते हुए बहुत समय गुजरता हैं । जिसके कारण पूरे शरीर में जकड़न और रीढ़ की हड्डी सिकुड़ जाती है, योग इन स्थितियों का सुधार करता है। 

टिप्पणियाँ